बसंत पंचमी

🙏🏼🙏🏼 सभी सुधि जनों को बसंत पंचमी की हार्दिक मंगलकामनायें 🙏🏼🙏🏼 जितनी धान की बालियाँ हों उतनी ही डालियाँ हो जाएँ और जितने धान के...

कुमाउँनी लोकगीतों में पर्यावरण

कुमाऊँ क्षेत्र पर्यावरण की दृष्टि से समृद्ध है। पर्यावरण को संस्कृति के मूलभूत अंग के रूप में जाना जाता है क्योंकि संस्कृति किसी भी समाज...

🙏 मकर संक्रांति घुगुतिया की शुभकामनाएं 🙏

फूलदेईक छापड़, खतडुवा क काकड़ घुतिक भाव, उतरेनिक काव बसंत पंचमिक जौं, सोनोक हर्याव बगवाइक च्यूड़, चौतोक आव त्यारोक घ्यूं, आब कि कू ?...